Vestige Company:- Joining Form, Plan, Meaning, Products , app

 Vestige Company 2020 | Vestige Joining Form pdf | Joining form online vestige | vestige distributor joining form | Myvestige joining form | vestige joining form pdf download

नमस्कार दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं Vestige कंपनी के बारे में और पोस्ट को आगे ले जाने से पहले Vestige कंपनी का आधार देखते हैं कि वह किन-किन योजनाओं पर काम करती है साथी में देखते हैं कि Vestige के काम करने के क्या-क्या मेथड  और इसी के साथ हम आपको इसके फायदे और लाभ की जानकारी इसी पोस्ट में देंगे मैं आशा करता हूं कि आप अंत तक हमारे साथ बने रहें ताकि हम आपको इससे संबंधित सभी जानकारी साझा कर पाए |

 Vestige क्या है ( What is vestige )

बेस्ट मल्टी लेवल मार्केटिंग कंपनी है जैसा कि हम सब जानते हैं मगर मल्टी लेवल मार्केटिंग कंपनी क्या होती मल्टी लेवल मार्केटिंग कंपनी के अंदर हमें कुछ लोगों का समूह बनाना पड़ता उस समूह के चलते हम अपने कोई भी एक प्रोडक्ट को या कोई भी प्रकार के कोर्स को आगे प्रमोट करते हैं इसको प्रमोट करने की भी कुछ अलग अलग स्टेटस होती हैं  इसका पालन करके जैसे जैसे लोग अपनी एक चेन बनाते हैं उन्हें उसके हिसाब से उनको कुछ कमीशन मिलता है 

को Vestige की चेन को बहुत लंबा करने के लिए दो लेक्स बनाने पड़ते हैं और लेक्स का नाम होता है राइट लेग और लेफ्लेट जैसे जैसे आपकी लेफ्ट लेग और राइट लेग की टीम वर्क करेगी उसी के हिसाब से आपको उसका पर आउट मिलेगा जैसे कि सब एमएलए में होता है

Description Of Vestige Products

Vestige Products :- Vestige के अंदर भी कुछ ऐसा ही सिस्टम है यहां पर पॉइंट्स के अकॉर्डिंग ही आपको पेआउट मिलता है जैसे जैसे आपकी लेक्स आपको पॉइंट क्रिएट करके देगी 1 पॉइंट्स के हिसाब से आपको पेमेंट दी जाएगी शुरुआती दौर में Vestige कंपनी आपको जॉइनिंग के टाइम पर फ्री अकाउंट प्रोवाइड करवाती है लेकिन उस अकाउंट के चलते आपको 14 दिन के अंदर हजार रुपए तक की एक ट्रांजैक्शन उनके साथ करनी पड़ती है

जिस ट्रांजैक्शन के दौरान आपको कुछ आइटम मोरिया कराएंगे आइटम एस्सेल प्रोडक्ट में आते हैं जैसे कि हमारे आम जिंदगी में होते हैं जिनका इस्तेमाल हम रोजमर्रा की जिंदगी में करते ऐसे ही प्रोडक्ट को प्रमोट करके इसके साथ अच्छी खासी धनराशि कर सकते हैं और अपने जीवन को अच्छा व्यतीत कर सकते हैं

Vestige joining form

 आपको Vestige के हर एक प्रोडक्ट की सेल पर 7 से 14 परसेंट तक का मुनाफा मिल सकता है  जैसे जैसे आपकी टीम का रिवेन्यू बढ़ेगा वैसे-वैसे कंपनी आपकी परसेंटेज के अंदर भी इंक्रीमेंट देगी अजीज के अंदर बहुत सारे फ्रेंड होते हैं जैसे कार पेंट होम फंड और भी अधिक प्रकार के होते पैकेज के अंदर कंपनी आपको एक अच्छे से देश की यात्रा करवाती है यात्रा के दौरान आपका सब एक्सपेंड कंपनी द्वारा मैनेज कर आ जाता है 

 Vestige जॉइनिंग की क्या क्या प्रक्रिया है

इस कंपनी को ज्वाइन करने के लिए आपको एक अप्लाई और मेंटर की रिक्वायरमेंट होती है जैसे कि आपको सेमिनार या ऑनलाइन फैशन अटेंड करते हैं जहां पर आप जब साइड के प्लान और उसके वर्किंग प्रोसेस से रूबरू होते हैं तो आपका मेंटर या ऑफलाइन होता है उस अपलाइन के द्वारा ही आपको आपकी आईडी प्राप्त करवाई चाहिए जैसा कि हमने ऊपर भी समझाया है आपको Vestige ज्वाइन करने के लिए कुछ धनराशि की परचेस करनी होती है जिस पर्चे के बाद आपका अकाउंट आईडी एक्टिव हो जाता है और उस एक्टिव आईडी को आप इस्तेमाल कर सकते हैं 

Vestige Distribution id , Joining Form , free Joining

याद रखेगा दोस्तों अगर आप अपनी आईडी को इलेक्ट्रिक रखते हैं और आप अपने काम में ध्यान नहीं देते तो हो सकता है कि आपकी डाउनलाइन के लोग आपसे ज्यादा पैसे कमाने लगे और आप Vestige के वहां कारोबार का फायदा न उठा सके इसीलिए हम आपसे विनती करते हैं अगर आप ऐसी जैसी कंपनी के साथियों से रिलेटेड कोई भी एम एल एम कंपनी के साथ जुड़े हुए हैं तो कृपया करके वहां अपनी आईडी को एक्टिव करने के लिए थोड़ा बहुत समय निकालकर काम कर सकती हैं जिससे आपको एक इनकम जनरेट हुआ करेगी हर महीने |

Vestige में अपनी आईडी लॉगिन कैसे करें

मैं अपनी आईडी को लॉगिन करने की प्रक्रिया बहुत ही आसान है जैसा कि आपको कंपनी के लोगों द्वारा समझाया जाएगा कि आपको माय Vestige डॉट कॉम पर विजिट करके वहां पर एक लॉगइन के सेक्शन पर क्लिक करके अपनी आईडी पासवर्ड को डालना है जहां पर आपको अपने सारे ट्रांजैक्शन और अपनी डाउनलाइन की इंफॉर्मेशन मिल जाएगी कि किस किस व्यक्ति ने क्या-क्या कार्य करा है और क्या क्या कार्य चल रहा है Vestige से रिलेटेड कोई भी नहीं अपडेट या कोई भी ऐसी चीज जो आपको जाने जरूरी है वह आपको Vestige की मेन साइट पर अपनी डिटेल को लॉगिन करके दे दी जाएगी | 

आत्मनिर्भर हरयाणा लोन स्कीम – 15000 रुपये DRI Yojana रजिस्ट्रेशन, आवेदन फॉर्म

आत्मनिर्भर हरयाणा लोन स्कीम | Atmanirbhar Haryana loan scheme registration | 15000 रुपये DRI Yojana रजिस्ट्रेशन | Haryana DRI Scheme

नमस्कार दोस्त अगर आप हरियाणा के रहने वाले हैं और एक छोटे कारागार हैं तब आज की हमारी पोस्ट आपके बहुत काम आने वाली है। हाल ही में आपको पता चला होगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने आत्मनिर्भर भारत की जो बात कही थी पूरे देश के लिए कही थी। जैसे ही आत्मनिर्भर गुजरात लोन स्कीम के बारे में आपने सुना होगा उसी तरीके का स्कीम अभी हरियाणा के लिए हरियाणा गवर्नमेंट द्वारा भी उपलब्ध करवाई जा रही है।

कोरोना की महामारी में वैसे भी सब लोगों का बिजनेस बहुत ज्यादा खतरे में पड़ चुका है। उसी के साथ साथ भारत की जीडीपी भी काफी ज्यादा गिर चुकी है, भारत पहले की तरह विकास नहीं कर पा रहा है। क्योंकि सब लोग इस बीमारी से बचने के लिए जहां है वहीं रुके हुए हैं कोई पहल नहीं कर रहा है। इसीलिए हरयाणा सरकार ने मदद करने के लिए आत्मनिर्भर हरयाणा लोन स्कीम के बारे में लोगों को बताना शुरू किया है जिससे लोग पहले की तरह अपना कामकाज शुरू कर सके।

तो आइए जानते हैं आत्मनिर्भर हरयाणा लोन स्कीम

क्या है इसका फायदा आप कैसे उठा सकते हो। साथ ही साथ में जानते हैं कि आत्मनिर्भर हरयाणा लोन स्कीम
के उद्देश्य क्या है। आपको कर्जा लेने के वक्त किन किन बातों का ध्यान रखना होगा और कितने ब्याज दर पर आपको इस लोन से कर्जा मिलेगा। कौन वह लोग हैं जो आत्मनिर्भर हरियाणा लोन स्कीम से फायदा उठा सकते हैं।

योजना का नामआत्मनिर्भर हरियाणा 15,000 रुपये लोन योजना
आरम्भ की गईमुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा
लाभार्थीराज्य के स्थायी निवासी
आवेदन की प्रक्रियाऑफलाइन
उद्देश्यनागरिको को स्वयं रोजगार के लिए प्रेरित करना
लाभ15,000 रूपये की ऋण राशि
श्रेणीहरियाणा सरकारी योजनाएं

आत्मनिर्भर हरयाणा लोन स्कीम क्या है

2 महीने हो चुके हैं कोरोनावायरस अब के बिजनेस पर बहुत बुरा प्रभाव डाल रही है सब का कामकाज ठप हो चुका है। और रतजिक संकट में हर कोई भारतीय नागरिक गिर चुका है, इन्हीं मुश्किलों को देखते हुए हरियाणा सरकार ने ₹15000 छोटे व्यवसायिक लोगों को देने की कोशिश की है

और उसी का नाम Atmanirbhar Haryana loan scheme रखा गया है। आत्मनिर्भर हरियाणा लोन स्कीम में लगभग 300000 गरीबों को ₹15000 तक दिए जाएंगे। जिस पर 2% का ब्याज लगेगा और इन पैसों से आत्मनिर्भर भारत का उद्देश्य साकार होगा तथा छोटे व्यापारी अपना व्यवसाय शुरू कर पाएंगे।

आत्मनिर्भर हरयाणा लोन स्कीम का उद्देश्य क्या है (Haryana DRI Scheme)


आत्मनिर्भर हरियाणा लोन स्कीम का सबसे पहला उद्देश्य यह है कि भारत में जो अभियान चला है आत्मनिर्भर भारत उसको साकार करना है।

उद्देश्य की बात करे तोह आत्मनिर्भर हरयाणा लोन स्कीम का दूसरा उद्देश्य यह है कि जो भी व्यवसाय रुका हुआ है, उसको चलाने के लिए एक रकम दी जा रही है। जिससे छोटे-मोटे व्यापारी अपना बिजनेस दोबारा से शुरू कर सकेंगे, जिससे भारत की आर्थिक अवस्था में काफी ज्यादा मदद होगी।

Atmanirbhar Haryana loan scheme(Haryana DRI Scheme) से हरियाणा के जो लोग हैं उनको एक प्रकार से मौका मिलेगा तथा रोजगार भी मिलेगा। जिससे वह अपने रोजाना जिंदगी को फिर से पहले की तरह जीत सकते हैं। लोगों के रिज़गार का जितना भी नुकसान हुआ है इस कोरोनावायरस में वह सब कुछ रिकवर करने की कोशिश Atmanirbhar Haryana loan scheme के तहत की जा रही है।

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana) PMMSY

आत्मनिर्भर हरयाणा लोन स्कीम के फायदे क्या है

Atmanirbhar Haryana loan scheme का सबसे बड़ा फायदा यह है कि हरियाणा सरकार गरीबों को यानी कि छोटे व्यवसायियों को ₹15000 तक के लोन प्रदान करेगी ऐसे उनकी घोषणा है।

DRI स्कीम में पहले कर्ज लेने पर 4 प्रतिशत का ब्याज देना पड़ता था। मगर अब 2 प्रतिशत का ब्याज देना होगा और जो बाकी का 2 प्रतिशत होगा यह राज्य सरकार दुवारा हासिल किया जाएगा।Atmanirbhar Haryana loan scheme(Haryana DRI Scheme) मैं जो भी कर्जा लेंगे उनका ब्याज दर डीआरआई योजना के तहत प्रदान किए जाएंगे।Atmanirbhar Haryana loan scheme कबक 300000 छोटे व्यवसायियों को ₹15000 का कर्जा देने के लिए सरकार ने घोषणा की है और इसमें 2% का ब्याज उनको देना होगा

Atmanirbhar Haryana loan का फायदा कैसे उठाएं

अगर आप आत्मनिर्भर हरयाणा लोन स्कीम का फायदा उठाना चाहते हैं इसके लिए आवेदन करना चाहते हैं, तब आप आपके आस पास की हरियाणा बैंक शाखा में जाएं और वहां पर छोटा-मोटा कोई भी व्यवसाय शुरू करने के लिए बैंक में पूछताछ करके लोन ले

अगर आपको लोन लेना है तो किस में आपको एक बात और ध्यान रखनी होगी जब भी आप लोन लेना चाहते हैं तब आपके पास आवेदन पत्र होना चाहिए। यानी कि जैसे आप रजिस्टर करोगे तब उसका रजिस्टर्ड लेटर आपके पास होना चाहिए तभी बैंक आपको इस स्कीम का लाभ उठाने के लिए कर्जा देगी वह भी 2% ब्याज पर।

तो यदि हमारी आज की पोस्ट Atmanirbhar Haryana loan scheme के बारे में। आशा है आपको पसंद आई होगी और भी इसके अपडेट आएंगे हम आपको पोस्ट के माध्यम से बताते रहेंगे तब तक के लिए आप इंतजार करिए। और अगले अपडेट हम आपको जल्द ही पहुंच जाएंगे, आपका हमारी आज की और पोस्ट पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना (one nation one ration yojana ) :- Registration Process

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना | ओने नेशन ओने राशन | एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम | one nation one ration | एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम upsc

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारी इस नई पोस्ट में आज हम बात करने वाले हैं एक राष्ट्र एक राशन के बारे में जैसा कि आप जानते हैं कि  इस वेबसाइट पर हम आपसे सरकारी योजनाओं से संबंधित सभी नए पुराने अपडेट पर चर्चा करते हैं आज फिर हम प्रस्तुत हैं एक नई स्कीम के बारे में  जिसके तहत भारत में रहने वाले सभी लोगों को एक बहुत अच्छा लाभ मिलने वाला है

 भारत सरकार द्वारा कई सारी स्कीम निकाली जाती है सरकार अपनी पूरी कोशिश करती है  की भारत के सभी नागरिक नई-नई योजनाओं का लाभ उठा सकें तो दोस्तों इस योजना का लाभ आप किन-किन तरीकों का इस्तेमाल करके उठा सकते हैं और किन-किन लोगों तक यह योजना पहुंचाई जाएगी अगर आप भी इस योजना को प्राप्त करने के पात्र हैं तो कृपया करके इस पोस्ट को पूरे पढ़ें हम इस पोस्ट में सभी जरूरी अपडेट आप तक पहुंचाने की पूर्णता कोशिश करेंगे 

एक राष्ट्र एक राशन

एक राष्ट्र एक राशन क्या है

 भारत सरकार द्वारा निकाली गई नई स्कीम का नाम है एक राष्ट्र एक राष्ट्र इस स्कीम के तहत भारत सरकार तत्काल में चल रहे राशन कार्ड सिस्टम को अपडेट करने जा रही है जैसा की अभी तक होता आया है अगर किसी व्यक्ति या उसके परिवार को इसी कारणवश अपना शहर छोड़ कर किसी दूसरे शहर में काम के सिलसिले से या किसी निजी सिलसिले से शिफ्ट होना पड़ता है तब वह सरकारी दुकानों पर मिलने वाला राशन प्राप्त नहीं कर पाता है

उसके लिए उसको नए राशन कार्ड के लिए अप्लाई करने की आवश्यकता होती है उसी के साथ में अच्छी खासी परेशानी का सामना करता है इसी के समाधान के लिए भारत सरकार द्वारा नई स्कीम एक राष्ट्र एक राशन को लागू किया गया जैसे कि अगर आप इसी एक शहर से दूसरे शहर के अंदर शिफ्ट हो रहे हैं और आपको राशन की समस्या हो रही है तब आप इस स्कीम के तहत किसी भी सरकारी गल्ले की दुकान से राशन प्राप्त कर सकेंगे भारत सरकार की इस पहल को बहुत ज्यादा सराहा जा रहा है देखते हैं कि हम इस योजना का कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड का सिस्टम प्रोसेस कैसे करता है 

एक राष्ट्र एक राशन योजना के चलते राशन उपभोक्ता की पहचान बायोमेट्रिक द्वारा की जाएगी अब सभी FPS  सेंटर पर बायोमेट्रिक द्वारा उपभोक्ता को जांचने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी भारत सरकार द्वारा जल्दी ही सभी एफपीएस सेंटर को बायोमेट्रिक तकनीक द्वारा अपडेट कर दिया जाएगा 

 कब से लागू करी जाएगी एक राष्ट्र एक राशन कार्ड  

 1 जून 2020 से राशन कार्ड और टेबल स्कीम one nation one ration कार्ड को अमल में लाने की तैयारी सरकार द्वारा की जा रही है यह जानकारी साझा करने वाले खाद मंत्री रामविलास पासवान जी  के द्वारा दी गई है  कोशिश यह करी जारी है कि महामारी के चलते पलायन करने वाले मजदूरों को इस योजना के तहत किसी भी शहर में रहकर सरकारी राशन की प्राप्ति हो सके और वह आर्थिक मंदी के शिकार ना हो पाए |

 किन राज्यों से one nation one ration yojana को लागू करा जाएगा 

 हर मंत्री जी द्वारा बताया गया है कि राशन कार्ड के साथ ही आधार विवरण को संबंध करना और साथ ही में पीडीएस दुकानों पर पॉइंट ऑफ सेल मशीन स्थापित करने और राशन कार्ड पोटेबिलिटी को प्रारंभ रूप से समक्ष बनाने के लिए महत्वपूर्ण पहल रहेगी, 

 शुरुआत में यह प्रक्रिया पहले ही 17 राज्यों से शुरू कर दी गई है जिम में शामिल है आंध्र प्रदेश तेलंगाना गुजरात महाराष्ट्र हरियाणा राजस्थान कर्नाटक केरल मध्य प्रदेश गोवा झारखंड त्रिपुरा यूपी पंजाब हिमाचल प्रदेश और दमन और दीव जैसे राज्य शामिल रहेंगे

 सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार के सामने  one nation one ration योजना को अपनाने की संभावना पर विचार करने पर जोर दिया है

 one nation one ration yojana से क्या-क्या लाभ मिल सकेंगे

 राष्ट्रीय खाद सुरक्षा कानून के पात्र लाभार्थी अपने एक ही राशन कार्ड का उपयोग करके देश में कहीं भी किसी भी स्थान पर सही मूल्य देने वाली दुकान से अपने हिस्से का राशन ले सकेंगे साथ ही में यह प्रक्रिया पूरे भारत वर्ष में लागू करी जा रही है जिससे वह लोग जो अपना घर छोड़कर किसी दूसरे राज्य में कार्य करने के लिए शक हुआ करते हैं उन लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी इससे उनको खाने-पीने जैसी चीजों के लिए परेशान होने की आवश्यकता नहीं होगी इस योजना के तहत वह अपना छोटा सा बायोमैट्रिक वेरिफिकेशन करवा कर इस योजना का लाभ उठा सकेंगे

 रजिस्ट्रेशन कैसे करना है एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना  के लिए

भारतवर्ष के अंदर किसी भी व्यक्ति को एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना के तहत किसी भी प्रकार का नामांकन कराने की आवश्यकता नहीं है भारत सरकार के पास कितना आंकड़ा मौजूद है उस आंकड़े  के अनुसार आपका राशन कार्ड ऑटो अपडेट कर दिया जाए इस अपडेट से संबंधित जानकारी आपके कांटेक्ट एड्रेस पर जैसे ईमेल या मोबाइल नंबर आदि पर आप तक पहुंचा दी जाएगी कोई भी व्यक्ति अगर आपको इस योजना से संबंधित रजिस्ट्रेशन के लिए कुछ भी धनराशि मांगता है और यह कानूनन अपराध है ऐसे लोगों से आप दूर रहें बाकी अगर इस योजना से संबंधित कोई भी अपडेट हमारे पास प्राप्त होती है तो हम आप तक सजा जरूर करेंगे अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो हमें कमेंट करके बताएं धन्यवाद

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana) PMMSY

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana upsc |प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना Registartion kind | प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना Status

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना – हेलो दोस्तों  आज हम आपको सरकार द्वारा लाई गई एक और नई स्कीम के बारे में बताने जा रहे हैं जैसा कि आप सब जानते हैं सरकार अपनी  जनता के हित के लिए नई नई स्कीमों से हमें परिचय करवाती रहती है इसी के साथ सरकार अपनी तरफ से पूरी कोशिश करती है कि हर एक स्कीम का लाभ लोगों द्वारा लिया जाए और वह अपनी एबिलिटी को और ज्यादा निखार पाए तो इसी के साथ हम आगे चलते हैं आज हम बात करने वाले हैं प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के बारे में  इस योजना से संबंधित आज हम आपको सभी मेन फीचर्स और इस से हम क्या क्या बेनिफिट ले सकते हैं और कौन-कौन सी श्रेणी के लोग  इस स्कीम का लाभ उठा पाएंगे |

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना

आशा करता हूं कि आप पूरी पोस्ट को ध्यान से पढ़ें और अगर आप भी इसी स्कीम की एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया को मैच करते हैं तो आप भी इसके अंदर अपना नामांकन करें हम आज इस पोस्ट के अंदर सभी मेन टॉपिक्स को कवर करने जा रहे हैं

NamePradhan Mantri Matsya Sampada Yojana
Launched byGovernment of India
BeneficiariesFishermen
ObjectiveImproving fishing channels and supporting fisherman
Official Websitehttps://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1625535

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना क्या है ?

 प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना की बात करी जाए तो इस स्कीम को सेंट्रल गवर्नमेंट द्वारा इंप्लीमेंट करने की इजाजत दे दी गई है हाल ही में यूनियन कैबिनेट द्वारा इस स्कीम को हरी झंडी प्राप्त हो गई है आने वाले 5 वर्षो के अंदर अंदर इस स्कीम का लाभ आम जनता उठा पाएगी |

 प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना सरकार द्वारा फिशरमैन की सहायता के लिए लाई गई है जैसा कि हम सब जानते हैं की सरकार हर एक सेक्टर में काम करने वाले इंसान के लिए अलग-अलग प्रकार की योजना लाती रहेती है|

इसी के साथ इस बार मछुआरों की मदद के लिए सरकार ने प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना का परिचय दिया है इस योजना के तहत सरकार फिशिंग सेक्टर एंड इंफ्रास्ट्रक्चर को सुधारने के लिए अलग-अलग प्रकार से मछुआरों की सहायता की जाएगी |

UP New Ration Card List 2020|यूपी नई राशन कार्ड लिस्ट 2020|

Key Point of Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana

  • यह योजना मत्स्य विभाग में एक नीली क्रांति लाने के लिए बनाई गई है |
  • यह योजना 5 वर्ष तक 2020-21 से लेकर 2024-25 तक भारत सरकार द्वारा जारी रहेगी |
  • अपना के दो अलग-अलग कंपोनेंट यानी विभाग रहेंगे 
  • सेंट्रल सेक्टर स्कीम (cs)
  •  सेंट्रल स्पॉन्सर्ड स्कीम (css)
  •  इस योजना से मत्स्य विभाग को प्रोडक्टिविटी में सहायता मिलेगी 
  • मछली पकड़ने और संबद्ध गतिविधियों में लगभग 15 लाख मछुआरों, मछली किसानों, मछली श्रमिकों, मछली विक्रेताओं और अन्य ग्रामीण / शहरी आबादी को सीधे लाभकारी रोजगार के अवसरों का निर्माण।
  • मछली पालन क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा देना और मछली और मत्स्य उत्पादों की प्रतिस्पर्धा में वृद्धि।
  • मछुआरों और मछली श्रमिकों के लिए सामाजिक, शारीरिक और आर्थिक सुरक्षा।

UP Ration Card Application Form Filling Online/Offline, Category Wise: All Info

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana के लाभ

 प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के अंदर काफी सारे बेनिफिट दिए जाएंगे जैसे कि मछुआरों और किसानों की उत्पादकता को कैसे बढ़ाया जाए इस विषय में उनको नई-नई तकनीकों से कैसे रूबरू कराया जाए इसी के विषय में सरकार पूर्णता प्रयास कर रही है

 मछुआरों को या फिर किसानों को कटाई के टाइम पर नई-नई तकनीकों का इस्तेमाल कैसे और कहां पर किया जाए इसके बारे में सरकार द्वारा पूरी गाइडेंस प्रोवाइड करवाई जाएगी 

 किसान की आय को दोगुना करने पर किन-किन चीजों का ज्यादा महत्व है उन सबको ध्यान में रखा जायेगा  जाएगा फिशरीज एंड एक्वाकल्चर भारत के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण रोल प्ले करता है इसी के साथ सरकार अपनी पूरी कोशिश करते हुए भारत के मत्स्य सेक्टर को इंप्रूव करने के लिए जहां तक हो सकता है अपना पूर्ण प्रयास कर रहे हैं |

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana में रजिस्ट्रेशन केसे करे

कार द्वारा अभी कोई भी रजिस्ट्रेशन प्रोसेस को लेकर अपडेट नहीं मिला है आप हमारे साथ बने रहे जैसी हमको कोई भी रजिस्ट्रेशन प्रोसेस से संबंधित जानकारी मिलती है हम आपके साथ जरूर साझा करेंगे अगर आपको यह पोस्ट  अच्छी लगी हो तो कृपया करके कमेंट करके हमें बताएं धन्यवाद

हलाल प्रमाणीकरण क्या है? कंपनियां अपने उत्पादों को हलाल-प्रमाणित क्यों करती हैं ?

हलाल प्रमाणीकरण : हलाल प्रमाणन में कहा गया है कि खाद्य या उत्पाद इस्लाम के अनुयायियों के लिए स्वीकार्य हैं और इसके निर्माण या प्रसंस्करण के दौरान कोई भी हराम उत्पाद या प्रक्रिया का उपयोग नहीं किया जाता है।

कोरोनोवायरस संकट के बीच, ट्विटर पर #BoycottHalalProducts ट्रेंड हुआ। अभियान उन सामानों को उतारने का था जो प्रमाणित हलाल थे। इसके अलावा, भारत में ‘हलाल’ वध पर प्रतिबंध लगाने के लिए विश्व जैन संगठन नामक एक गैर सरकारी संगठन द्वारा एक जनहित याचिका दायर की गई थी, ताकि इसे कोरोनोवायरस महामारी को ध्यान में रखते हुए जानवरों से मनुष्यों तक पहुंचाया जा सके।

Atma Nirbhar Bharat Abhiyan 2020 – New Package For Poor People

हलाल और हराम क्या हैं?

हलाल एक अरबी शब्द है जिसका अर्थ है ‘अनुमेय या मान्य’। हलाल इस्लाम और उसके आहार कानूनों से संबंधित है, विशेष रूप से मांस से संबंधित है जो कानूनों की आवश्यकताओं के अनुसार संसाधित और तैयार किया जाता है।

दूसरी ओर, हराम एक अरबी शब्द है जिसका अर्थ है ‘निषिद्ध या निषिद्ध’। कुरान के अनुसार, कई उत्पाद हैं जो इस्लाम के अनुयायियों के लिए निषिद्ध हैं। ये हैं – शराब, वध से पहले मरे हुए जानवर, खून और उसके उपोत्पाद, सूअर का मांस और बिना मांस (बिना हलाल प्रक्रिया के)।

हलाल कानून क्या कहता है?

कुरान हलाल व्यवहार में उल्लेख इस प्रकार है:

  • 1- केवल एक मुस्लिम व्यक्ति किसी पशु का वध कर सकता है। कई ग्रंथों में, यह भी उल्लेख किया गया है कि अगर यहूदियों और ईसाइयों जानवरों वध, वे कदम (हलाल प्रक्रिया) के बाकी का पालन करें, मांस इस्लामी आहार नियमों के अनुसार हलाल है।
  • 2- जानवर को एक तेज चाकू से काटा जाना चाहिए, कटे हुए तंत्रिका, कैरोटिड धमनी और विंडपाइप के साथ कट जाना चाहिए।
  • 3- जानवर को मारते समय कुरान की आयत को पढ़ना चाहिए और तस्मिया या शहादा के नाम से जाना जाता है।
  • 4- वध के समय, पशु को जीवित और स्वस्थ होना चाहिए। रक्त की मात्रा को अधिकतम करने के लिए नसों के शरीर को हटा दिया जाना चाहिए।
  • 5- इस्लाम में, एक जानवर का मांस खाना जो पहले ही मर चुका है या हलाल प्रक्रिया से निषिद्ध है।

Delhi Shelter Board: COVID 19 Migrant Registration: delhishelterboard.in

हलाल प्रमाणीकरण

कई इस्लामी देशों में, हलाल प्रमाणीकरण सरकार द्वारा प्रदान किया जाता है। भारत में, FSSAI (भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण) प्रमाणन लगभग सभी प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों पर देखा जा सकता है, लेकिन यह प्राधिकरण भारत में हलाल प्रमाणीकरण प्रदान नहीं करता है। हलाल प्रमाणीकरण भारत में कई निजी कंपनियों द्वारा दिया जाता है जो इस्लाम के अनुयायियों को स्वीकार्य खाद्य या उत्पादों को चिह्नित करते हैं। भारत में महत्वपूर्ण हलाल प्रमाणन कंपनियां हैं:

  • 1- हलाल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड।
  • 2- हलाल सर्टिफिकेशन सर्विसेज इंडिया प्राइवेट लिमिटेड।
  • 3- जमीयत उलमा-ए-महाराष्ट्र- जमीयत उलमा-ए-हिंद की एक राज्य इकाई।
  • 4- जमीयत उलेमा-ए-हिंद हलाल ट्रस्ट।

सौंदर्य प्रसाधन और फार्मास्यूटिकल्स प्रमाणित हलाल क्यों हैं?

कॉस्मेटिक्स और फार्मास्यूटिकल्स को हलाल प्रमाणीकरण की आवश्यकता होती है क्योंकि ये कंपनियां जानवरों के उत्पादों का उपयोग करती हैं। उदाहरण के लिए, वर्तमान शराब इत्र, लिपस्टिक और लिप बाम, कॉस्मेटिक उत्पादों सूअर, मुर्गी, बकरी के उत्पादों का उपयोग करने, आदि में सुअर की चर्बी और यह इस्लामी कानूनों के अनुसार निपटने के लिए मना किया है। इसलिए, सौंदर्य प्रसाधन और फार्मास्यूटिकल्स जो प्रमाणित हलाल हैं इसका मतलब है कि उनमें कुछ भी नहीं है जो इस्लाम के अनुयायियों के लिए निषिद्ध है।

प्रवासी राहत मित्र ऐप ( Prabhasi rahat mitra app ) – rahatup.in

कंपनियां अपने उत्पादों को हलाल के रूप में प्रमाणित क्यों करती हैं?

कंपनियों के लिए अपने उत्पादों प्रमाणित हलाल ताकि उनके उत्पादों इस्लामी देशों को निर्यात किया जा सकता है हो रही है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि इस्लाम के अनुयायी दुनिया की 1.8 बिलियन आबादी का गठन करते हैं, अर्थात दुनिया की आबादी का 24.1% है। इसके अलावा, कई इस्लामिक देशों में केवल हलाल-प्रमाणित खाद्य पदार्थों की अनुमति है।

कई रिपोर्टों के अनुसार, हलाल खाद्य बाजार वैश्विक खाद्य बाजार का लगभग 19% है। इस प्रकार, बड़े बाजारों की सेवा करने के लिए, मांग और आपूर्ति श्रृंखला को पूरा करने के लिए, कई कंपनियां अपने उत्पादों को हलाल के रूप में प्रमाणित कर रही हैं।

हलाल खाद्य पदार्थों से उत्पादों को तैयार करना, एक शब्द है “हलाल पर्यटन”। इसमें होटल और रेस्तरां शराब नहीं परोसते हैं और उनके रेस्तरां में केवल हलाल-प्रमाणित भोजन परोसा जाता है। कई होटलों में, स्पा और स्विमिंग पूल की सुविधा दोनों पुरुषों के लिए अलग-अलग हैं। और महिलाएं।

हलाल प्रमाणीकरण के साथ कौन से मुद्दे बढ़ गए हैं?

  • 1- उत्पादों है कि हलाल प्रमाणित बढ़ जाती हैं, क्योंकि प्रमाणीकरण प्रक्रिया लागत से मुक्त नहीं है की लागत। इसके अलावा, हलाल प्रमाणन प्राप्त करने के लिए प्रक्रिया में कई संशोधनों की आवश्यकता होती है।
  • कई क्षेत्रों में गैर-मुसलमानों के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध नहीं हैं – हलाल स्लॉटरहाउस।
  • 3 हलाल प्रमाणन हलाल मांस उद्योग में एक भेदभावपूर्ण प्रक्रिया है, विशेष रूप से गैर-मुस्लिमों के लिए।
  • 4- आज तक कोई मानक हलाल प्रमाणन प्रक्रिया नहीं है। इसका मतलब है कि एक देश से हलाल प्रमाणित उत्पादों किसी दूसरे देश में मान्यता प्राप्त नहीं हो सकता है। उदाहरण के लिए, संयुक्त अरब अमीरात भारत का हलाल प्रमाणीकरण अमान्य है।
  • यह नोट करना दिलचस्प है कि हलाल प्रमाणित खाद्य पदार्थ या उत्पादों अन्य समुदायों के लिए प्रतिबंधित नहीं किया गया। कोई भी विश्वासी हलाल-प्रमाणित भोजन और उत्पादों का पालन कर सकता है।

To Create Your Halal Certification Click Here

आत्मनिर्भर भारत योजना 2020: Coronavirus के खिलाफ प्रधानमंत्री ने दिया GDP का 10%, देखें बाकी देशों ने कितना

आत्मनिर्भर भारत योजना 2020: पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोनिवायरस के खिलाफ लड़ाई में 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज की घोषणा की है। यह देश की जीडीपी का 10% है। जानिए दुनिया के दूसरे बड़े देश कोरोना रिलीफ पैकेज पर कितना खर्च कर रहे हैं। लॉकडाउन 4.0 से पहले, प्रधानमंत्री … Read more

Atma Nirbhar Bharat Abhiyan 2020 – New Package For Poor People

Atma Nirbhar Bharat Abhiyan 2020 – एक व्यक्ति को दूसरों पर निर्भर होने के बजाय जीवन में आत्म-निर्भर और आत्मविश्वास होना चाहिए। दूसरे शब्दों में, स्व-सहायता उनके जीवन का मूल सिद्धांत, मूल आदर्श और उनके उद्देश्य की मूल प्रणाली होनी चाहिए। अनर्गल प्रकृति और मानव परिस्थितियों से घिरे होने से आत्मविश्वास … Read more

Delhi Shelter Board: COVID 19 Migrant Registration: delhishelterboard.in

Delhi Shelter Board COVID 19 Overseas Workers Return Registration Form @ delhishelterboard.in, Delhi Overseas Workers Registration Official Website www.delhishelterboard.in. Delhi authorities have began the tactic of registration of migrants on the official web site of the Delhi Shelter Boards who’ve gone to a different nation for private or skilled work. Currently, … Read more

प्रवासी राहत मित्र ऐप ( Prabhasi rahat mitra app ) – rahatup.in

प्रवासी राहत मित्र ऐप २०२० – प्रवासी मजदूरों को राहत देने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ द्वारा यूपी प्रवासी राहत मित्र ऐप लॉन्च किया गया है। उत्तर प्रदेश के प्रवासी मजदूर जो कुछ अन्य राज्यों में फंसे हुए थे और वे अब यूपी लौट आए हैं, उन्हें इस ऐप के माध्यम से विभिन्न योजनाओं का लाभ दिया जाएगा और भविष्य में उनके कौशल के अनुसार मजदूरों का डेटा एकत्र किया जाएगा। रोजगार और आजीविका प्रदान करने की व्यवस्था की जाएगी। आइए, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से प्रवासी भारतीय राहत मित्र (rahatup.in) ऐप जैसे आवेदन प्रक्रिया, पात्रता, दस्तावेज आदि से संबंधित सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं, हमारे लेख को अंत तक ध्यान से पढ़ें।

ऐप का नामप्रवासी राहत मित्र ऐप
लांच किया गयामुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा
लाभार्थीप्रवासी मजदूर
पंजीकरण की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यमजदूर को विभिन्न सरकारी सेवाओं का लाभ देना
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटwww.rahatup.in/
प्रवासी राहत मित्र ऐप

राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना | New National Health Insurance Scheme 2020

UP Pravasi Rahat मित्र एप का उद्देश्य क्या है |

कोरोना वायरस के कारण, पूरे भारत में लॉक-डाउन चल रहा है और यह लॉक-डाउन 17 मई तक किया गया है। इस लॉक डाउन के कारण, अन्य राज्यों से लौटे प्रवासी मजदूरों का डेटा एकत्र किया जाएगा। उत्तर प्रदेश प्रवासी मजदूरों के लिए उत्तर प्रदेश प्रवासी राहत ऐप लॉन्च किया गया है। इस ऐप के माध्यम से एकत्र किए गए सभी प्रवासियों का डेटा नए rahatup.in पोर्टल पर संग्रहीत किया जाएगा। इस यूपी प्रवासी राहत मित्र ऐप के माध्यम से, प्रवासी मजदूरों को विभिन्न योजनाओं का लाभ प्रदान करना और उनका डेटा एकत्र करना, उन्हें भविष्य में उनके कौशल के अनुसार नौकरी और आजीविका प्रदान करने की व्यवस्था करना और उनके स्वास्थ्य को भी ट्रैक करना होगा।

यूपी प्रवासी राहत मित्र ऐप

इस ऐप की मदद से, सरकार उन प्रवासी मजदूरों के स्वास्थ्य की निगरानी करने में भी सक्षम होगी जो उत्तर प्रदेश से दूसरे राज्यों में लौट आए हैं। इस यूपी प्रवासी राहत मित्र ऐप के माध्यम से, उत्तर प्रदेश के श्रमिक किसी अन्य राज्य से लौटे, उनका पूरा विवरण जैसे नाम, शैक्षिक योग्यता, अस्थायी और स्थायी पता, बैंक खाता विवरण, कोविद 19 संबंधित स्क्रीनिंग स्थिति, शैक्षिक योग्यता और अनुभव। जाएंगे सभी जिलों के डीएम के नेतृत्व में डेटा संग्रह की जिम्मेदारी ग्रामीण क्षेत्रों में नगर विकास विभाग और पंचायती राज विभाग को सौंपी गई है। इस ऐप से एकत्र किए गए डेटा को एकीकृत सूचना प्रबंधन प्रणाली पर संग्रहीत किया जाएगा।

Delhi e-Ration Card 2020 – Registration and status check

UP Pravasi Rahat Mitra App को डाउनलोड करें?

अगर राज्य के इच्छुक लाभार्थी राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए इस राहत ऐप को डाउनलोड करना चाहते हैं, तो नीचे दी गई विधि का पालन करें।

  • सबसे पहले, आवेदक को उत्तर प्रदेश राहत की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद, होम पेज आपके सामने खुल जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Download Rahat App का विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक करना है। विकल्प पर क्लिक करने के बाद, अगला पृष्ठ आपके सामने खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको ऐप का लिंक दिखाई देगा, आपको वहां से ऐप इंस्टॉल करना होगा। इस तरह आप ऐप डाउनलोड कर लेंगे।
  • आप इस ऐप को अपने मोबाइल पर Google Play Store से भी डाउनलोड कर सकते हैं।
  • Android उपयोगकर्ताओं (Google playstore) और iPhone iOS उपयोगकर्ताओं (Apple App Store) के लिए UP Pravasi Rahat Mitra मोबाइल ऐप डाउनलोड करने का एक सीधा लिंक जल्द ही यहाँ प्रदान किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश प्रवासी राहत मित्र ऐप के क्या क्या लाभ है |

  • इस ऐप का लाभ दूसरे राज्य से उत्तर प्रदेश में आने वाले प्रवासी मजदूरों को प्रदान किया जाएगा।
  • यूपी प्रवासी राहत मित्र ऐप पर पंजीकरण के बाद, अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश में आने वाले सभी प्रवासी मजदूरों को सरकारी योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इसके साथ, राज्य सरकार भविष्य में रोजगार प्रदान करने के लिए प्रवासी श्रमिकों के स्वास्थ्य और साथ ही उनकी योग्यता और कौशल के अनुसार उनकी सुरक्षा को ट्रैक करेगी।
    इन सभी सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए, सभी प्रवासी मजदूरों को यह ऐप डाउनलोड करना होगा और अपना पंजीकरण कराना होगा।
  • प्रवासी राहत मित्र (rahatup.in) ऐप की एक और विशेषता यह है कि यह ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफ़लाइन भी काम कर सकता है। इसके अलावा, प्रभावी निर्णय लेने के लिए ऐप में ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के लोगों के डेटा को भी अलग किया जा सकता है.

राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना | New National Health Insurance Scheme 2020

केंद्र सरकार द्वारा देश के गरीब नागरिकों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना शुरू की गई है। उन्हें चिकित्सा सुरक्षा प्रदान करने के लिए, केंद्र सरकार द्वारा रुपये की राशि के लिए स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाएगा। 30000 (स्वास्थ्य बीमा उन्हें चिकित्सा सुरक्षा प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किया जाता है)। राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना की मदद से, यह सरकारी अस्पताल में भर्ती होने के मामले में देश के गरीब नागरिकों को कैशलेस उपचार प्रदान करने का मार्ग प्रशस्त करेगा।

New National Health Insurance Scheme 2020

असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों और उनके परिवारों (पांच इकाइयों) को इस योजना के तहत शामिल किया जाएगा। असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए एक बड़ी असुरक्षा उनकी लगातार बीमारियाँ और श्रमिकों और उनके परिवार के सदस्यों की चिकित्सा देखभाल और अस्पताल में भर्ती की आवश्यकता है। स्वास्थ्य सुविधाओं में विस्तार के बावजूद, उनकी बीमारी भारत में मानव अभाव के सबसे लगातार कारणों में से एक है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत, देश के लोगों को स्वास्थ्य बीमा के रूप में मुफ्त चिकित्सा सुविधा प्रदान की जाएगी। आरएसबीवाई को भारत सरकार के श्रम और रोजगार मंत्रालय द्वारा शुरू किया गया है, जो गरीबी रेखा (बीपीएल) से नीचे रहने वाले परिवारों को स्वास्थ्य बीमा कवरेज प्रदान करता है।

Objective of National Health Insurance Scheme

जैसा कि आप जानते हैं कि देश में कई लोग ऐसे हैं जो आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण बीमार होने पर इलाज नहीं करा पाते हैं। जिसके कारण कभी-कभी लोगों की मौत हो जाती है। इन सभी समस्याओं को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा यह राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत, देश के असंगठित क्षेत्रों के आर्थिक रूप से कमजोर श्रमिकों को स्वास्थ्य बीमा प्रदान करना। जिसके माध्यम से सभी लोग सूचीबद्ध अस्पतालों में अपना इलाज नि: शुल्क करवा सकते हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को अस्पताल में भर्ती होने के साथ-साथ वित्तीय चोटों से होने वाली सुरक्षा प्रदान करना चाहती है।

RSBY Smart Card Advantages

इस योजना के तहत, देश के गरीब लोगों को एक आरएसबीवाई स्मार्ट कार्ड प्रदान किया जाएगा, जिसकी मदद से लोगों को अस्पतालों में मुफ्त चिकित्सा सुविधा मिल सकती है। यह सूची मुख्य रूप से राज्य सरकार द्वारा तैयार की गई है। राज्य के अधिकांश रखरखाव अस्पताल सूचीबद्ध हैं। प्रत्येक राज्य की अपनी सूची होगी। इस प्रकार, रोगी को किसी भी अस्पताल में प्रवेश लेने से पहले सूची की जांच करना आवश्यक है। स्मार्ट कार्ड का सबसे महत्वपूर्ण कार्य यह है कि यह नामांकित अस्पतालों में कैशलेस लेनदेन को सक्षम बनाता है और देश में कहीं भी इन लाभों का लाभ उठाया जा सकता है। देश के लोग सरकार द्वारा सूचीबद्ध अस्पतालों में ही अपना इलाज करा सकते हैं।

  • असंगठित क्षेत्रों के परिवार इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत, असंगठित क्षेत्रों के श्रमिकों को सरकार द्वारा 30000 रुपये का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाएगा।
    योजना के तहत असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों और उनके परिवारों (पांच की इकाई) को शामिल किया जाएगा।
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत बीमा कवर केवल एक वित्तीय वर्ष के लिए मान्य होगा। कैशलेस चिकित्सा उपचार लाभ प्राप्त करने के लिए, पॉलिसीधारक को वार्षिक आधार पर कार्ड को नवीनीकृत करना होगा।
  • केंद्र और राज्य सरकारें चिकित्सा बीमा प्रीमियम प्रदान करेंगी। लाभार्थी को केवल 30 रुपये का भुगतान करना होगा। इस राशि का उपयोग कार्ड को नवीनीकृत करने के लिए किया जाएगा।

National Health Insurance Scheme Eligibility List

  • आवेदक भारत का निवासी होना चाहिए।
  • कैशलेस चिकित्सा बीमा का लाभ उन लोगों को दिया जाएगा जो गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) की श्रेणी में आते हैं। इस प्रकार, जो लोग कम आय वाले परिवार के हैं और जिनके पास बीपीएल कार्ड हैं।
  • इस योजना के तहत असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों का वेतन पैकेज बहुत अधिक नहीं है। उन्हें इस योजना के तहत पात्र माना जाएगा।
  • असंगठित क्षेत्र के श्रमिक जो बीपीएल श्रेणी में आते हैं और उनके परिवार के सदस्यों (पांच सदस्यों के परिवार के सदस्य) को योजना के तहत लाभ मिलेगा।
  • अगर बीमा धारक कैशलेस सुविधा प्राप्त करना चाहते हैं, तो उन्हें अस्पताल के काउंटर पर स्मार्ट कार्ड उपलब्ध कराना होगा। इस कार्ड के बिना, लाभ प्राप्त नहीं किया जा सकता है।
  • कार्ड पाने के लिए पॉलिसी धारक को 30 रुपये का भुगतान करना होगा।

Documents by Rashtriya Swasthya Bima Yojana

  • आवेदक का आधार कार्ड
    राशन पत्रिका
  • बीपीएल प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आवास प्रामाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

How to use for the National Health Insurance Scheme (RSBY)?

इस योजना के तहत, सरकार द्वारा सभी क्षेत्रों में सर्वेक्षण एजेंसियों द्वारा सूची तैयार की जाएगी और बीपीएल परिवारों की पहचान की जाएगी। सूची तैयार होने के बाद, इसे बीमा पॉलिसी कंपनियों के कार्यालय में स्थानांतरित किया जाएगा, जिन्हें प्राधिकरण द्वारा चुना गया है।

यह बीपीएल परिवारों से संपर्क करने और उन्हें चिकित्सा बीमा पॉलिसी प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए पॉलिसी एजेंटों की जिम्मेदारी होगी। बीमा कंपनी इस योजना के तहत लोगो को सूचीबद्ध करने के लिए जिम्मेदार होगी।

संबंधित क्षेत्र में पंजीकरण केंद्र स्थापित किए जाएंगे। यदि क्षेत्र दूर अंतर्देशीय में स्थित है, तो बीमा कंपनी के मालिक एक मोबाइल (ऑन-द-गो) नामांकन शिविर स्थापित करेंगे।

नामांकन के दिन, सभी इच्छुक उम्मीदवारों को पंजीकरण केंद्रों का दौरा करना होगा। उन्हें अपना बीमा कार्ड करवाना होगा। एजेंट एक उम्मीदवार के बायोमेट्रिक डेटा को रिकॉर्ड करने के लिए मशीनों का उपयोग करेंगे।

इसके बाद, उम्मीदवारों के उंगलियों के निशान को स्कैन किया जाएगा और तस्वीरें ली जाएंगी, फिर एजेंट स्वास्थ्य बीमा कार्ड जारी करेंगे, जिसे आरबीएसवाई स्मार्ट कार्ड भी कहा जाएगा। यह एक विशेष प्रिंटिंग मशीन के माध्यम से कार्ड को प्रिंट करके प्रदान किया जाएगा।

उम्मीदवार और परिवार के सदस्यों के बायोमेट्रिक विवरण चिप में संग्रहीत किए जाएंगे। लाभार्थी तीस रुपये का शुल्क देने के बाद और संबंधित अधिकारी द्वारा स्मार्ट कार्ड के प्रमाणीकरण के बाद, उन्हें स्मार्ट कार्ड के साथ अस्पतालों की योजना और सूची के विवरण के साथ एक सूचना पुस्तिका प्रदान की जाती है।

इस प्रक्रिया में आमतौर पर 10 मिनट से भी कम समय लगता है। कार्ड को प्लास्टिक कवर में दिया गया है।
योजना से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए, इसे योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं।