Home Education Education Loan क्या होता है? Education Loan की पूरी जानकारी हिंदी में!

Education Loan क्या होता है? Education Loan की पूरी जानकारी हिंदी में!

आज के युग मे सफल जीवन के लिए एक अच्छी शिक्षा का होना बहुत जरूरी है। अगर व्यक्ति शिक्षित है तो वो अपने लिए सफलता के रास्ते स्वयं बना लेगा,कई लोग सोचते हैं कि किसी अच्छे संस्थान से Graduate करना उनकी शिक्षा उपलब्धि में चार चांद का कार्य करता है, वैसे यह सत्य भी है। अगर आप किसी Reputated University या Institution से Graduation करते हैं तो आपकी एक विशिष्ट पहचान हो जाती है।

education loan
Student loan written on a piggy bank.

लेकिन हम इसे भी अनदेखा नहीं कर सकते कि समय के साथ शिक्षा की लागत तेजी से बढ़ रही है। वास्तव में, Reputated University या Institution में अध्ययन की लागत पहले से ही काफी अधिक है।

सामान्य परिवार से संबंधित छात्रों के लिए इन Reputated University या Institution में पढ़ाई करना एक तरह से एक ख्वाब होता है, लेकिन आर्थिक तंगी के कारण वे इससे वंचित रह जाते हैं।

ऐसे छात्रों के लिए Education Loan बहुत ही फायदेमंद साबित होता है क्योंकि ये छात्रों को उनकी शैक्षिक आवश्यकताओं को पूरा करने में मदद करता है। आमतौर पर भारत मे सभी Banks और NFCs Education Loan प्रदान करती हैं।

हालांकि अपनी Studies Complete करने के बाद अगर आप कोई Business करना चाहते हैं तो आप SBI Business Loan या फिर HDFC Business Loan के लिए भी Apply कर सकते हैं।

आज के हमारे इस आर्टिकल में हम आपको Education Loan के बारे में जानकारी देंगे!

Education Loan क्या होता है?

आज के युग और समय को ध्यान में रखते हुए, माता-पिता, जो अपने बच्चों को Best Possible Education प्रदान करना चाहते हैं तो वो अपने पैसों को Mutual Funds, Fixed Deposits आदि में लंबे समय के लिए निवेश करते हैं.

लेकिन इन सब के बावजूद, किसी को भी धन की कमी का सामना करना पड़ सकता है ऐसे में एक Education Loan , इस तरह की कमी और जरुरत को पूर्ण करने में Helpful साबित होता है।

कुछ Surveys और Reports के अनुसार, Education की लागत प्रति वर्ष Average 15% बढ़ रही है। MBA की अस्थायी लागत 15 साल में 2.5 लाख रुपये से 20 लाख रुपये हो चुकी है। इसलिए अगर कोई दंपति 15 साल के लिए प्रति माह 2,000 रुपये की बचत शुरू करता है, तो Average 12% की दर से, वे लगभग 9.5 लाख रुपये बचा पाएंगे, जो कि पर्याप्त धन नहीं है, ऐसे में Education Loan ही सहायता करता है.

अगर आप Education Loan लेने में Interested नही है तो आप PNB Personal Loan के लिए Apply कर सकते हैं।

  • Education Loan क्या-क्या कवर करता है?

इसमें मे न पाठ्यक्रम फीस और अन्य संबंधित खर्च जैसे (कॉलेज) आवास, परीक्षा और अन्य अनेक प्रकार के फीस शामिल हैं।

  • Education Loan के लिए कौन आवेदन कर सकता है?

एक Student मेन उधारकर्ता होता है। माता-पिता, पति या पत्नी सह-आवेदक हो सकते हैं।

  • Education Loan किसको दिया जाता है?

यह उन Students को प्रदान किया जाता है जो भारत में Study करना चाहते हैं या विदेशों में Higher Studies करना चाहते हैं। भारत और विदेशों में Study के लिए दी जाने वाली अधिकतम राशि अलग-अलग होती है और एक बैंक से दूसरे बैंक में Differ होती है।

लोन के अंतर्गत आने वाले पाठ्यक्रमों के प्रकार

यह एक फुल टाइम , पार्ट टाइम या व्यावसायिक पाठ्यक्रम और इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट , चिकित्सा, होटल मैनेजमेंट , आर्किटेक्चर , आदि के क्षेत्र में ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए लिया जा सकता है।

योग्यता और आवश्यक दस्तावेज

  • लोन के लिए आवेदन करने के लिए, एक भारतीय नागरिक होना चाहिए, जिसने भारत या विदेश में एक सक्षम व अधिकृत भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त कॉलेज / विश्वविद्यालय में प्रवेश प्राप्त किया हो व आवेदक ने अपनी उच्च माध्यमिक स्तर की स्कूली शिक्षा पूरी कर ली ।
  • कुछ बैंक विश्वविद्यालय में प्रवेश पाने से पहले ही ऋण प्रदान करते हैं।
  • भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के दिशा निर्देशों के अनुसार, अधिकतम आयु सीमा पर कोई प्रतिबंध नहीं है, लेकिन कुछ बैंकों के पास हो सकता है।
  • बैंकों को संस्थान के प्रवेश पत्र, फीस संरचना, दसवीं, बारहवीं और ग्रेजुएशन (यदि लागू हो) के मार्कशीट जैसे अतिरिक्त दस्तावेजों की आवश्यकता होती है। इसके साथ ही और आवश्यक दस्तावेज जैसे सह-आवेदक के सैलरी पर्ची या आयकर रिटर्न (आईटीआर) आवश्यक हैं।

लोन देना व दूसरी आवश्यक चीजे

बैंक राशि के आधार पर लोन का 100% तक धन स्टूडेंट को प्रदान कर सकते हैं। वर्तमान में, 4 लाख रुपये तक के लोन के लिए, मार्जिन मनी की आवश्यकता नहीं है। भारत में अध्ययन के लिए, आवश्यक धन का 5% आवेदक द्वारा प्रदान किया जाना होता है। दूसरी ओर, विदेशों में अध्ययन के लिए, आवश्यक मार्जिन मनी 15% तक बढ़ जाती है।

बैंक 7.5 लाख रुपये से अधिक के लोन के लिए जमानत भी मांगते हैं।

Interest Rates

बैंक मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स आधारित लेंडिंग रेट (MCLR-Marginal Cost of Funds based Lending Rate) का उपयोग करते हैं, साथ ही एक अतिरिक्त ब्याज दर निर्धारित करते हैं। वर्तमान में (2019 में), अतिरिक्त ब्याज दर 1.35-3% के रेंज में है।

Loan Repayment

  • लोन छात्र द्वारा चुकाया जाता है। आमतौर पर, चुकौती तब शुरू होती है जब कोर्स पूरा हो जाता है। और कुछ बैंक नौकरी हासिल करने के 6 महीने बाद या पुन: भुगतान के लिए पढ़ाई पूरी करने के एक साल बाद की छूट अवधि प्रदान करते हैं।
  • पुन: भुगतान की अवधि आम तौर पर 5 से 7 साल के बीच होती है, लेकिन इसे इससे भी आगे बढ़ाया जा सकता है।
  • कोर्स अवधि के दौरान, बैंक लोन पर साधारण ब्याज दर लेता है। पाठ्यक्रम की अवधि के दौरान साधारण ब्याज का भुगतान भविष्य में पुन: भुगतान के लिए छात्र पर समान मासिक किस्त (ईएमआई) के बोझ को कम करता है।

Education Loan के लिए सावधानियां कोनसी होनी चाहिए?

लोन के लिए आवेदन करते समय, किसी को बैंक शुल्क के लिए भी देखना चाहिए जैसे प्रोसेसिंग फीस , पूर्व भुगतान, ईएमआई का देर से भुगतान, आदि। अधिकांश लोन देने वाले बैंक लोन राशि का लगभग 0.15 प्रतिशत Processing Fees लेते हैं।

इसके साथ ही यदि आप Bank से Loan लेते समय अपने Personal Lawyer से Consult करले तो अच्छा रहेगा।क्योंकि ऐसे समय मे आपको पूरी Information होनी चाहिए।

Conclusion

एक Education Loan लेना आपको एक अच्छा Credit Score बनाने में मदद करता है क्योंकि यह किसी व्यक्ति के जीवन में पहला Loan है। अगर आप बिना किसी चूक के समय पर Loan चुकाते हैं तो भविष्य में आपके लिए Home Loan, Car Loan आदि प्राप्त करना भी आसान हो जाता है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest articles

Tamilrockers – 2019 New HD Bollywood Movies Download

Tamilrockers 2019: Whenever we feel bored, then we first like to see something that changes our mood. In such a situation, I...

Marjaavaan Hindi Full Movie Leaked Online Download By Tamilrockers Filmywap Worldfree4u

About Tamilrockers leaked Marjaavaan Movie Online Back in Marjaavaan, that will be anything but a movie to expire, writer-director...

Supreme Court to articulate Sabarimala’s decision today: What it’s objective?

A five-member constitutional bench of the Supreme Court to report Sabarimala's decision today. A five-member constitutional bench of the...

SC Upholds Disqualification of 17 Congress-JDS MLAs But allows them to contest Karnataka Bypolls which are going to held on December 5

At that point, Assembly speaker KR Ramesh Kumar had eliminated these 17 MLAs of administering the Congress-JD(S) alliance in front of a...