ग्रामीण भंडारण योजना 2020 : Online Registration | Check Subsidy Online

ग्रामीण भंडारण योजना 2020 | gramin bhandaran yojana 2020 pdf | gramin bhandaran yojana online form | gramin bhandaran yojana launched date | gramin bhandaran yojana meaning in hindi

दोस्तों जैसा की आप जानते हैं आज हम आपको ग्रामीण भंडारण योजना 2020 के बारे में अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आप सभी के साथ महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे है। दोस्तों जैसा कि आप सभी लोग जाते हैं हमारे देश में किसानों की आर्थिक स्थिति इतनी अच्छी नहीं है।कि वह अपने भंडारण बना सके इसी बात को दिखा रखते हुए।केंद्र सरकार ने ग्रामीण भंडार योजना को आरंभ किया है।

हमारे प्यारे मित्रों आज हम आपको बताते हैं कि ग्रामीण भंडारण योजना 2020 क्या है?ग्रामीण भंडारण योजना को लागू किसने किया है और कब किया? इस योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है?ग्रामीण योजना का लाभ किसको होगा? ग्रामीण भंडारण योजना की विशेषताएं, पात्रता, आवेदन प्रक्रिया को बताने जा रहे हैं।दोस्तों आप वेयरहाउस सब्सिडी स्कीम 2020 के बारे में जानने में रुचि रखते है। तो आपको हमारे आर्टिकल के साथ अंत आप सभी को अंत तक जुड़े रहना होगा और हमारे आर्टिकल को ध्यान पूर्वक साझा करना होगा।

ग्रामीण भंडारण योजना 2020

वेयरहाउस सब्सिडी स्कीम 2020 क्या है?

ग्रामीण भंडारण योजना 2020 इसलिए बनाई गई है ताकि किसानों के साथ कई बार ऐसा होता है।फसल को सुरक्षित ना रख पाने के कारण किसानों को अपनी फसलों को कम दामों में बेचना पड़ता है।जिस से किसानों को बहुत नुकसान होता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने वेयरहाउस सब्सिडी स्कीम 2020 का शुभ आरंभ किया है। इस योजना का शुभ आरंभ इसलिए किया है ताकि किसानों को फसल को सुरक्षित रखने के लिए भंडारण का निर्माण किया जा सके। भंडारण का निर्माण किसान चाहे तो खुद भी कर सकते हैं तथा किसानों से जुड़े संस्थाएं भी कर सकते है।

इस ग्रामीण भंडारण योजना 2020 में किसानों की सहायता करने के लिए किसानों को भंडार गृह का निर्माण करने के लिए किसानों को लोन प्रदान किया जाएगा तथा लोन पर सब्सिडी भी दी जाएगी। किसानों को भंडारण का निर्माण इसलिए कराया जा रहा है ताकि किसानों को जो नुकसान होता है वह नुकसान ना हो और मैं अपनी फसलें सुरक्षित रख सके।और अच्छे दामों में बेच सकें जिससे कि जो सारी फसलें किसान ने बनाई है वह उसको अच्छे दामों में बेचकर आनंद ले सके और अपनी अधिक से अधिक परेशानियों को दूर कर सके।

ग्रामीण भंडारण योजना क्षमता

इस ग्रामीण भंडारण योजना 2020 के अंतर्गत क्षमता का निर्णय उद्यमी द्वारा किया जाएगा। लेकिन सब्सिडी प्राप्त करने के लिए गोदाम की क्षमता न्यूनतम 100 टन होनी चाहिए और अधिकतम 30,000 टन होनी चाहिए। यदि क्षमता 30,000 टन से ज्यादा है या फिर 100 टन से कम है तो इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी नहीं दी जाएगी। कुछ विशेष मामले में 50 टन क्षमता तक पर भी सब्सिडी प्रदान की जाएगी। पर्वतीय क्षेत्रों में 25 टन क्षमता वाले ग्रामीण गोदाम को भी सब्सिडी दी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत लोन चुकाने की अवधि 11 साल है।

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत सब्सिडी मिलने का क्या सहारा है?

ग्रामीण भंडारण योजना 2020 की सब्सिडी मिलने का सहारा नीचे बताए गए निम्नलिखित प्रकार द्वारा है जो सब्सिडी मिलने में आवश्यक महत्वपूर्ण हैः-

  • ग्रेडिंग
  • चार दिवारी
  • गोदाम में निर्माण की पूंजी लागत
  • पैकेजिंग
  • अतिरिक्त जल निकासी प्रणाली का निर्माण
  • प्लेटफार्म
  • गुणवत्ता प्रमाणन
  • भीतरी सड़क
  • वेयरहाउसिंग सुविधाएं आदि।

ग्रामीण भंडारण योजना के मुख्य उद्देश्य क्या है?

वेयरहाउस सब्सिडी स्कीम 2020 का मुख्य उद्देश्य किसानों की सहायता करना है।जिस से किसानों की फसलें जो सुरक्षा ना रहने की वजह से कम दामों में बिकती है। केंद्र सरकार इस बात को ध्यान में रखते हुए
किसानों को भंडारण गृह निर्माण करता है।जिससे कि किसान अपनी फसल को सुरक्षित रख सके और वह अपनी फसल को कम दामों में बेचने के लिए मजबूर ना हो। इस योजना के माध्यम से किसानों की आर्थिक स्थिति में भी सुधार आएगा।और किसानों को सभी परेशानियों का सामना भी नहीं करना पड़ेगा और उनकी फसलें भी भंडारण गृह होने से सुरक्षित रह पाएंगे। और सभी किसान अच्छे दामों में फसलें बेच सकेंगे।

ग्रामीण भंडारण योजना 2020 में लाभार्थी कौन-कौन होगा?

ग्रामीण भंडारण योजना में लाभार्थी नीचे बताए गए सभी होंगेः-

  • किसान
  • कृषक/उत्पादक समूह
  • प्रतिष्ठान
  • गैर सरकारी संगठन
  • स्वयं सहायता समूह
  • कंपनियां
  • निगम
  • व्यक्ति
  • सरकारी संगठन
  • परिसंघ
  • कृषि उपज विपण समिति

वेयरहाउस सब्सिडी स्कीम 2020 की पात्रता क्या है|

ग्रामीण भंडारण योजना 2020 का लाभ किसान तथा कृषि से जुड़े संगठन उठा सकते हैं:-

  • योजना का पात्र होने के लिए आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बैंक अकाउंट डिटेल्स
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • निवास प्रमाण पत्र

ग्रामीण भंडारण योजना 2020 के अंतर्गत सब्सिडी की दरें

  • अधिकतम सीमा तीन करोड़ रुपए है जो एससी/एसटी उद्यमी तथा इन समुदायों से संबंधित संगठन या फिर पूर्वोत्तर राज्य, पर्वतीय क्षेत्र में स्थित जगह पर परियोजना की पूंजी लागत का एक तिहाई हिस्सा सब्सिडी के रूप में प्रदान किया जाएगा। 
  • यदि निर्माण कराने वाला व्यक्ति किसान है या फिर किसान ग्रेजुएट है या फिर किसी सहकारी संगठन से संबंध रखता है। इस स्थिति में अधिकतम राशि 2.25 करोड़ होगी। और 25% तक की सब्सिडी परियोजना की पूंजी पर प्रदान की जाएगी।
  • इस स्थिति में अधिकतम राशि 1.35 करोड़ रुपए है।अन्य सभी श्रेणियों में व्यक्ति, कंपनियों और निगम आते हैं जिसमें परियोजना पूंजी की लागत का 15% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • लागत 25% सब्सिडी के रूप में प्रदान किया जाएगा जब गोदाम का जीर्णोद्धार एनसीडीसी की सहायता से किया जाएगा।

ग्रामीण भंडारण योजना 2020 के अंतर्गत परियोजना की पूंजी लागत किस प्रकार है

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत परियोजना की पूंजी बताए गए नीचे नियम के प्रीति है:-

  • 1000 टन क्षमता के गोदाम के लिए:- बैंक द्वारा प्रदान की गई मुलयांकित परियोजना लागत या वास्तविक लागत या फिर 3500 रुपए प्रति टन। इन में से जो भी कम है।
  • 1000 टन से ज्यादा क्षमता वाले गोदाम:- बैंक द्वारा प्रदान की गई मूल्यांकन परियोजना लागत या फिर वास्तविक लागत या फिर 1500 रुपए प्रति टन। इनमें से जो भी कम हो।

वेयरहाउस सब्सिडी स्कीम 2020 के मुख्य प्रकार क्या है|

ग्रामीण भंडारण योजना 2020 के मुख्य प्रकार निम्नलिखित है नीचे दिए गए सभी प्रकारों को ध्यानपूर्वक पढ़ें:-

  • किसान अपनी मर्जी से कहीं भी भंडार गृह का निर्माण कर सकता है।
  • प्यारे मित्रों आप लोगों को गोदाम की ऊंचाई 4 से 5 मीटर से कम नहीं होनी चाहिए।
  • सारे दरवाजे और खिड़कियां हवा दार होनी चाहिए।
  • सभी रोशनदान तथा खिड़कियां पक्षियों से सुरक्षित होनी चाहिए।
  • ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत आवेदक को गोदाम के लिए लाइसेंस का लेना बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है।
  • गोदाम में कुछ सुविधाएं भी उपलब्ध होनी चाहिए जैसे सड़क का पक्का होना,जल निवासी की व्यवस्था,सुरक्षा व्यवस्था,समान लाने की और उतारने दी की व्यवस्था आदि होना अनिवार्य है।
  • गोदाम कीटाणुओं से सुरक्षित होना चाहिए।
  • भंडार जिले 1000 टन से ज्यादा है तो उससे सीडब्ल्यूसी से मान्यता प्राप्त करना अनिवार्य है।
  • गोदाम नगर निगम की सीमा क्षेत्र से बाहर होना अनिवार्य है।
  • भंडार गृह का निर्माण सीपीडब्ल्यूडी या फिर सीपीडब्ल्यूडी- के के दिशा निर्देशों के अनुसार होना चाहिए।
  • इंजीनियरिंग मानकों के अनुसार इस योजना के अंतर्गत गोदाम बनना चाहिए।
  • आवेदक को वैज्ञानिक भंडारण का निर्माण वेयरहाउस सब्सिडी स्कीम के अंतर्गत करना होगा।
  • गोदाम की क्षमता का निर्णय इस योजना के अंतर्गत आवेदन पर निर्भर किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदक के पास खुद की जमीन होना अनिवार्य है।

ग्रामीण भंडारण योजना 2020 के अंतर्गत आने वाले बैंक

ग्रामीण योजना के अंतर्गत आने वाले बैंक निम्नलिखित लिखित है नीचे दिए गए बैंकों के नाम को ध्यान से पढ़ें:-

  • अर्बन कोऑपरेटिव बैंक
  • रीजनल रूरल बैंक
  • कमर्शियल बैंक
  • नॉर्थ ईस्टर्न डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन
  • स्टेट कोऑपरेटिव एग्रीकल्चरल एंड रूरल डेवलपमेंट बैंक
  • स्टेट कोऑपरेटिव बैंक
  • एग्रीकल्चरल डेवलपमेंट फाइनेंस कमेटी

ग्रामीण भंडारण योजना 2020 के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

ग्रामीण भंडार योजना के अंतर्गत आवेदन करने की निम्नलिखित प्रक्रियाएं हैंः-

  • सबसे पहले आपको ग्रामीण भंडारण योजना 2020 की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होमपेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अप्लाई नाव के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अप्लाई नाव ओके बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपके इस आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को
    अटैच करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।

निष्कर्ष(conclusion)

दोस्तों हमने आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आप सभी को ग्रामीण भंडारण योजना 2020की महत्वपूर्ण जानकारी साझा कर दी है। आशा है आप को हमारे आर्टिकल को पढ़ कर ग्रामीण भंडारण योजना 2020 के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी अच्छी से साझा हो गई होगी।

यदि अगर आपको अभी भी किसी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है आप सात ग्रामीण भंडारण योजना 2020 की वेबसाइट पर संपर्क कर सकते हैं या फिर आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के अपनी परेशानी को पूछ सकते हैं आपका कमेंट हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण होगा हमारे आर्टिकल को अंत तक ध्यान पूर्वक पढ़ने के लिए और हमारे साथ जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद।

Read more:-

लाडली योजना दिल्ली: Click here

Leave a comment